JA Teline V - шаблон joomla Форекс

27 साल का चीकू कैसे बन गया विराट

Cricket
Typography

टी20 वल्र्ड कप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 51 गेंदों पर 82 रन की पारी खेलकर विराट कोहली ने एक बार फिर अमिट छाप छोड़ी है। विराट की इस ऐतिहासिक पारी की यादें सालों तक दिलों में रहेंगी। विराट की पारी कैसी है ये हम सभी जानते हैं लेकिन विराट निजी जिंदगी में कैसे हैं, ये भी जान लेना बेहद जरूरी है। वह दिल्ली का बाशिंदा है, उसे प्रशंसक खून से चिट्ठियां लिखते है, वह आक्रामकता और परफॉर्मेंस का अनूठा संगम है और उसे चुनौतियां का मुकाबला करना पसंद है।

वह जिसे चाहता है, उसे हासिल करके दम लेता है, वह दबाव में बिखरता नहीं बल्कि निखर कर सामने आता है। उसमें द्रविड़ जैसा धैर्य है, सहवाग सी आक्रामकता है, उसका खेल सचिन जैसा नैसर्गिक है और वह गांगुली की तरह आगे बढ़कर लीड करना जानता है। वह भारत का टेस्ट टीम कप्तान है और उसके पास वह सब कुछ है जो एक 27 वर्षीय युवक केवल कल्पना ही कर सकता है। इतना सब हासिल करने क बावजूद खेल के प्रति उसकी लगन देखने लायक है। वह विराट कोहली है, वह भारत की रन मशीन है। कोहली पहली बार तब सुर्खियों में आए थे जब 2006 में एक रणजी मैच के दौरान उनके पिता के देहांत के बावजूद उन्होंने जबरदस्त दृढ़ता का परिचय देते हुए 90 रनों की पारी खेली थी जिससे दिल्ली वह मैच बचाने में कामयाब हो गई थी। कोहली ने जिस जबरदस्त साहस का परिचय दिया था वह आज भी फिरोजशाह कोटला के इतिहास में दर्ज है। 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वन डे सीरीज के पहले मैच में कोहली छक्का मारने के चक्कर में 91 रनों पर लपके गए थे। मैच के बाद वसीम अकरम ने कोहली से पूछा आपको ऐसा शॉट मारने की क्या जरूरत थी आप आसानी से अपना शतक पूरा कर सकते थे। इस पर कोहली का जवाब था कि आप थोड़ा इंतजार कीजिए, मैं इस सीरीज में कम से कम दो शतक जरूर लगाउंगा। कोहली का चार मैचों की उस सीरीज में स्कोर था- 91, 59, 117 और 106। कोहली को टैटूज का बेहद शौक है। वह अब तक चार टैटू अपने शरीर पर गुदवा चुके हैं। उनका पसंदीदा टैटू गोल्डन ड्रैगन है जो उन्होंने अपनी बांह पर गुदवा रखा है। कोहली के मुताबिक यह टैटू अच्छे लक का स्त्रोत है। ये बात तो सभी जानते है कि विराट कोहली सचिन तेंदुलकर के बहुत बड़े प्रशंसक है, लेकिन क्या आप जानते है कि कोहली को एक बल्लेबाज और फील्डर के तौर पर दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी हर्शल गिब्स बेहद पसंद थे। यही कारण था कि विराट अपनी फील्डिंग और बल्लेबाजी पर जमकर पसीना बहाते हैं। विराट कोहली दुनिया के पहले क्रिकेटर है जिन्होंने वन डे में सबसे तेज 6000 रनों का आंकडा पार किया है। विराट कोहली दुनिया के पहले क्रिकेटर है जिन्होंने वन डे में सबसे तेज 6000 रनों का आंकडा पार किया है। इसके अलावा वह दुनिया के इकलौते कप्तान है जिन्होंने टेस्ट में कप्तानी करते हुए अपनी पहली तीन पारियों में ही शतक ठोंके थे। विराट को स्वादिष्ट खाना पसंद है जब वे दुनिया में कहीं भी यात्रा करते हैं। घर होने पर उन्हें अपनी मम्मी के हाथों की बनी मटन बिरयानी और खीर पसंद है। कोहली अपने फैशन सेंस के लिए भी जाने जाते हैं। उनका नाम 10 बेहतरीन कपड़े पहनने वाले आदमियों में शामिल हैं। इस सूची में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा का नाम भी शामिल है। वन डे क्रिकेट के इतिहास में महज आठ बल्लेबाज है जो एक दिवसीय मैचों में 20 से अधिक शतक लगा चुके हैं और विराट कोहली उन आठ बल्लेबाजों में शामिल है। इसे अगर दूसरे तरीके से देखा जाए तो कोहली, राहुल द्रविड़, जैक कालिस, मैथ्यू हेडन, कुमार संगकारा और वीरेंद्र सहवाग जैसे दिग्गजों से ज्यादा शतक लगा चुके हैं और अभी वह महज 27 साल के है। इसे अगर दूसरे तरीके से देखा जाए तो कोहली, राहुल द्रविड़, जैक कालिस, मैथ्यू हेडन, कुमार संगकारा और वीरेंद्र सहवाग जैसे दिग्गजों से ज्यादा शतक लगा चुके हैं और अभी वह महज 27 साल के है। कोहली की कप्तानी में भारत ने अंडर-19 विश्व कप जीता था। यूं तो कोहली के बॉलीवुड अदाकारा अनुष्का शर्मा के अफेयर के बारे में सभी जानते हैं लेकिन क्या आप जानते है कि अनुष्का से पहले कोहली का क्रश बॉलीवुड की एक और अदाकारा करिश्मा कपूर हुआ करती थी। विराट कोहली केवल क्रिकेट को लेकर पैशनेट नहीं है, वह फुटबॉल को भी काफी पसंद करते है, कोहली देश में फुटबॉल को बढ़ावा देने वाली इंडियन सुपर लीग की टीम एफसी गोवा के सह मालिक भी है। विराट कोहली पुर्तगाल और स्पैनिश क्लब रियल मैड्रिड के स्टार स्ट्राइकर क्रिस्चियानो रोनाल्डो के बहुत बड़े प्रशंसक है। विराट कोहली पुर्तगाल और स्पैनिश क्लब रियल मैड्रिड के स्टार स्ट्राइकर क्रिस्चियानो रोनाल्डो के बहुत बड़े प्रशंसक है।अभी वे एक दर्जन से भी ज्यादा ब्रांड्स के लिए प्रचार करते हैं। माना जाता है कि वह खास श्विसल्सश् क्लब जिसमें 100 रुपए से ज्यादा के ब्रांड्स का प्रचार करने वाले खिलाडी शामिल हैं का भी हिस्सा हैं।विराट कोहली को ड्रेसिंग रूम में चीकू पुकारा जाता है। हालांकि उन्हें ये नाम दिल्ली स्टेट कोच अजीत चैधरी ने दिया था।विराट कोहली के बारे में कहा जाता है कि बचपन से लेकर आज तक उन्होंने आज तक कोई भी ट्रेनिंग सेशन मिस नहीं किया है। क्रिकेट को लेकर कोहली की गंभीरता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है।विराट कोहली चैरिटी में भी काफी आगे हैं। वे अपने नाम से गरीब बच्चों के लिए एक संस्था चलाते हैं। इस संस्था का नाम विराट कोहली फाउंडेशन है।विराट कोहली लड़कियों में खासे लोकप्रिय है। उन्हें कई लड़कियां खून से खत लिख चुकी है। यह कोहली के प्रति दीवानगी को बयान करने के लिए काफी है।विराट कोहली ऐसे पहले भारतीय बल्लेबाज है जिन्होंने विश्व कप के पहले ही मैच में शतक जमाया है। इसके अलावा विराट भारत की तरफ से वन डे मैचों में सबसे तेज शतक भी लगा चुके हैं। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ये शतक महज 52 गेंदों में पूरा किया था।युवराज सिंह उनके क्रिकेट के प्रति समर्पण से काफी प्रभावित है। युवराज के मुताबिक वो गजब के प्रोफेशनल है और जवानी में अगर मैं कोहली जितना फोकस्ड होता तो ज्यादा कामयाब हो सकता था।कोहली फील्ड पर अपने आक्रामक अंदाज के लिए भी जाने जाते है। ऐसे ही एक वाक्ये में कोहली ने ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज जेम्स फॉकनर को करारा जवाब दिया था। फॉकनर, कोहली से चार गेंद खाली निकलवा चुके थे, पांचवी गेंद पर कोहली ने गेंद पर शॉट मारने का प्रयास किया लेकिन वह केवल एक रन ही ले पाए इस पर फॉकनर ने कोहली को चुनौती देते हुए कहा था कि दम हो तो शॉट मारकर दिखाए, कोहली ने फॉकनर को माकूल जवाब देते हुए कहा था कि मैंने अपनी जिंदगी में तुम्हें कई चैके-छक्के लगाए हैं, जाओ जाकर गेंदबाजी करो। यह पूरी बातचीत विकेटों के माइक पर रिकॉर्ड हुई और कोहली का ये अंदाज सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।